Tuesday , 06 December 2016

तुलसी (Basil) की पूजा क्यों की जाती है जाने कथा

तुलसी (Basil) की पूजा क्यों की जाती है जाने कथा – तुलसी (Basil) पूर्व जन्म मे एक लड़की थी. जिस का नाम वृंदा था. राक्षस कुल में उसका जन्म हुआ था. बचपन से ही भगवान विष्णु की भक्त थी. बड़े ही प्रेम से भगवान की सेवा, पूजा किया करती थी.जब वह बड़ी हुई तो उनका

500 और 1000 के नोट बंद काली कमाई वालों की बजी बैंड

500 और 1000 के नोट बंद काली कमाई वालों की बजी बैंड– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार और कालाधन पर रोक लगाने के लिए मंगलवार को कड़ा कदम उठाया. देशवासियों को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि आज रात मंगलवार रात 12 बजे से 500 और 1000 रुपए के नोट बंद हो जाएंगे. पुराने

छठ पर्व (Chhath) उद्गम मान्यता विश्वास तथा मनाने के विधि

छठ पूजा के इतिहास की ओर दृष्टि डालें तो इसका प्रारंभ महाभारत काल में  कुंती द्वारा सूर्य की आराधना व पुत्र कर्ण के जन्म के समय से माना जाता है. मान्यता है कि छठ देवी सूर्य देव की बहन हैं और उन्हीं को प्रसन्न करने के लिए जीवन के महत्वपूर्ण अवयवों में सूर्य व जल

दीपावली (Deepawali) माँ महालक्ष्मी को प्रसन्न करने का दिन

इस दीपावली आप माँ लक्ष्मी को प्रसन्न कर सकते हैं कुछ आसन से उपाय कर के अगर हम मानें तो गंगा माँ हैं और न मानें तो वहता पानी अगर विश्वास है तो सब कुछ नहीं तो कुछ भी नहीं . धन के बिना कुछ भी नहीं है . अगर हमारे पास धन है तो जिंदगी

धनतेरस 28 अक्टूबर 2016 पूजा से लेकर खरीदारी तक शुभ मुहूर्त

धनतेरस कार्तिक कृ्ष्ण पक्ष की त्रयोदशी के दिन पूरी श्रद्धा से मनाया जाता है. इस दिन देव धनवन्तरी के साथ माँ महालक्ष्मी जी तथा धन के देवता कुबेर की उपासना की जाती है. इस शुभ अवसर पर कुबेर के अलावा यम को भी दीप दान किया जाता है. इस दिन यम की पूजा करने से

अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtmi) के शुभ मुहूर्त तथा तारे निकलने का समय

इस बार अहोई अष्टमी का व्रत शनिवार 22 अक्टूबर 2016 को पड़ रहा है. इस दिन माँ अपने पुत्रों की लंबी आयु के लिए व्रत रखती है. इस बार वे अपनी बेटियों के लिए भी उनके स्वास्थ्य के लिए व्रत करेंगी. इस लेख में हम आपको इस दिन के शुभ मुहूर्तों के बारे में अवगत

करवा चौथ (Karvachouth) पर विभिन्न शहरों में चंद्र उदय मुहूर्त

इस बार करवा चौथ का त्यौहार बुधवार (19-10-2016) को मनाया जा रहा है. इस दिन शुभ कार्तिक मास का रोहिणी नक्षत्र है. इस दिन चन्द्र देव अपने रोहिणी नक्षत्र में रहेंगे. बुध अपनी कन्या राशि में रहेंगे. आज ही के दिन श्री गणेश चतुर्थी और भगवान कृष्ण जी की रोहिणी नक्षत्र भी है. बुधवार गणेश

अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtami) व्रत संतान प्राप्ति के लिए जरुर रखे

अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtmi) का व्रत कार्तिक माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी को किया जाता है. इस दिन महिलाए संतान व अपने पति के कल्याण हेतु व्रत रखती है. यह व्रत उदयकालिक तथा प्रदोषव्यापिनी अष्टमी को ही किया जाता है. ये भी पढ़े – करवा चौथ व्रत से जुड़े कूछ महत्वपूर्ण रीती रिवाज तथा जरूरी

शरद पूर्णिमा (Sharad Purnima) का विज्ञान की दृष्टि से महत्व

धर्म और आस्था हमारी संस्कृति की वो मजबूत नींव है जो हमारी सभ्यता को और भी समृद्ध बनाती है. हमारा देश भारत त्योहारों और परंपराओं का देश है. एक के बाद एक त्योहार तथा पर्व हमें एक दूसरे के साथ जोड़ने का काम करते हैं. नवरात्र और दशहरा से ही त्योहारों का मौसम शुरु हो

करवा चौथ व्रत से जुड़े कूछ महत्वपूर्ण रीती रिवाज तथा जरूरी बातें

भारतीय समाज में ऐसी बहुत से परम्पराएँ तथा रीती रिवाज है. जिनसे पति पत्नी के बीच आपसी समझ और प्यार पढता है. इनमे से एक है करवा चौथ. माना जाता है करवा चौथ का व्रत रखने से जहाँ पति पत्नी का रिश्ता आजीवन प्रेम से भरा रहता है. वहीँ इस व्रत के रखने से पति

नवरात्र विशेष – भूल कर भी ये अशुभ काम और गलतियाँ ना करें

कुछ ही दिनों में नवरात्र शुरु होने जा रही है. इन दिनों में माँ दुर्गा के नव स्वरूपों की पूजा 9 दिनो तक की जाती है. शास्त्रों के अनुसार अगर इन दिनो हम कुछ बातो का ध्यान रखें. कुछ सावधानियां बरतें और कुछ अशुभ कामों के करने से बचें तो दुर्गा मां के साथ साथ

नवरात्र विशेष – कलश या घट की स्थापना की जरूरी चीजे पूजन की विधि

नवरात्र शुरु होने में कुछ ही दिन बाकी है. हिन्दू धर्म में नवरात्रों का विशेष महत्व है. नवरात्रो में दुर्गा माँ के नव रूपों की पूजा नौ दिनों तक की जाती हैं. नवरात्र की शुरुआत में प्रतिपदा तिथि को सबसे पहले उत्तम मुहर्त में कलश या घट की स्थापना गणेश जी के रूप में की